hindi

परियोजनाएँ

’ एक भारत: सरदार पटेल ‘ प्रदर्शनी

  • भारत के माननीय प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी ने 31 अक्‍तूबर, 2016 को ’ एक भारत: सरदार पटेल ‘  शीर्षक अनुपम डिजिटल प्रदर्शनी का उद्घाटन किया ।  इस प्रदर्शनी का सृजन केन्द्रीय अनुसंधान एवं प्रशिक्षण प्रयोगशाला द्वारा राविके, दिल्‍ली के सहयोग से किया गया ।  यह प्रदर्शनी दर्शकों विभिन्न प्रकार की डिजिटल के डिजिटल संस्थापनाओ से युक्‍त होने का अवसर प्रदान करती है ताकि लोग भारत की एकता में सरदार पटेल की भूमिका को समझ सकें।  3 विमीय फिल्‍म (बिना चश्मे के), होलोग्राफिक प्रक्षेपण, काइनेटिक प्रक्षेपण, नेत्र आधारित आभासी वास्तविकता का अनुभव, मस्तिष्क तरंग आधारित अन्‍त: क्रिया, मल्‍टी टच टेबुल्‍स, सम्‍मोहनकारी दृश्‍य-श्रव्‍य अनुभव, सामूहिक प्रतिभागी डिजिटल संस्थापना, संवर्द्धित  वास्‍तविकता आधारित अन्‍तराफलक, वर्चुअल फ्लिपबुक्‍स, डिजिटल चित्रकारी, सोशल मीडिया एवं अति वास्‍तविक अवधि व्‍यवस्‍था पर एक भारत संकल्‍प का प्रयोग अभिलेखीय दस्‍तावेजों को प्रस्‍तुत करने के लिए किए गए हैं ताकि दर्शकों के लिए आनन्‍दप्रद अनुभव सृजित किया जा सके तथा वेब के साथ उनका संपर्क करा दिया जाए।

    प्रदर्शनी एवं वेब पोर्टल के अतिरिक्‍त, प्रदर्शनी की कहानी को सारांश रूप में प्रस्‍तुत करते हुए एक पुस्तिका तथा स्‍मारिकाऍं भी तैयार की गयी हैं ताकि लोग उसे ले सकें । 
    प्रदर्शनी में 30 प्रदर्श हैं जिनमें लगभग 20 विभिन्‍न प्रकार के डिजिटल अन्‍त: क्रियाओं एवं मीडिया अनुभवों का इस्‍तेमाल किया गया है ।  अभी तक, प्रदर्शनी का स्‍थायी संस्‍करण राष्‍ट्रीय विज्ञान केन्‍द्र, दिल्‍ली में रखा गया है ।
    लेकिन, केन्द्रीय अनुसंधान एवं प्रशिक्षण प्रयोगशाला ने इस विशाल प्रदर्शनी का एक गतिमान संस्‍करण भी विकसित किया है जो वर्तमान समय में पूरे भारत में भ्रमण कर रही है ।  इसकी यात्रा जूनागढ़ से शुरू हुई जहॉं 09.11.2016 को इसका उद्घाटन गुजरात के मुख्‍यमंत्री श्री विजय रूपाणी द्वारा बहाउद्दीन कॉलेज, जूनागढ़ के केन्‍द्रीय हॉल में किया गया ।  तब से यह प्रदर्शनी मुम्बई, भोपाल, हैदराबाद, बेंगलूरू, गोवा तथा अपने वर्तमान अवस्थान जयपुर की यात्रा कर चुकी है ।